Posts

Showing posts from September, 2019

पूरन चला गया पर दर्द और गम का अथाह समंदर छोड़ गया...

Image
पूरन चला गया पर दर्द और गम का अथाह समंदर छोड़ गया...
(अमित तिवारी) कासगंज : क़स्बा बिलराम के रहने वाले धनहीन भूमिहीन अन्नहीन गृहविहीन कर्ज तले दबे एक सख्स पूरन ने 30 अगस्त की शाम फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली, अब सवाल है कि पूरन की मौत के बाद उसके रोते बिलखते पत्नी और तीन मासूम बच्चों का क्या होगा, जब पूरन था तब थोड़ी बहुत मजदूरी कर अपने बच्चों के लिए दो वक्त की रोटी का इंतजाम बमुश्किल कर पाता था, अब वो इस दुनिया में नहीं हैं, 



उसने अपने पत्नी बच्चों को भूंख से तड़फता देख फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है, मैं और मेरे साथी बरिष्ठ पत्रकार नरेन्द्र पालीवाल सोमवार 9 सितम्बर को मृतक पूरन के घर बिलराम पहुंचे,पूरन के पत्नी बच्चे भाई बहन रिश्तेदार सभी का रो-रोकर बुरा हाल था, पूरन तो चला गया पर दर्द और गम का अथाह समंदर छोड़ गया, जो भी पूरन के परिवार से मिला है... वह इस दर्द और स्थिति को महसूस कर सकता है कि आज उसका परिवार किस मोड़ पर खड़ा है.. किस हालत में है,



मृतक पूरन के परिवार में उसकी पत्नी- सुनीता 40 वर्ष, पुत्री- रेखा 20 वर्ष, पुत्री – गुड़िया 12 वर्ष, पुत्री- हेमलता 6 वर्ष व सबसे छोटा पुत्र- छत्रपाल जिस…