जिलाधिकारी ही नहीं.. बृक्ष देवता कहिये,







जिलाधिकारी ही नहीं.. बृक्ष देवता कहिये,  

(अमित तिवारी) कासगंज : जनपद में इस बार जिस प्रकार से... जिस भावना से... जिस संकल्प से.. एक महा-अभियान के रूप में बृक्षारोपण कार्य किया जा रहा है.. वह सब देखकर अगर हम और आप कासगंज जिलाधिकारी को एक बृक्ष देवता की संज्ञा दें तो यह कहना अनुचित नहीं होगा, 



कासगंज जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह ने एक देवता के रूप में अपने डीएफओ उपदेवता दिवाकर वशिष्ठ के साथ मिलकर जनपद में 15 लाख 92 हज़ार 4 सौ 94 नव बृक्षों को रोपित करने का लक्ष्य निर्धारित किया है,
नित्य प्रतिदिन एक महा-अभियान की भांति बृक्षारोपण की मोनिटरिंग की जा रही है, 





डीएफओ दिवाकर वशिष्ठ ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देशन में बीते 20 दिनों में 2 लाख से अधिक बृक्षों को रोपित किया गया है,





15 लाख से अधिक बृक्षों को रोपित करने के लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु जिलाधिकारी कासगंज ने इस महा-अभियान को कई तरह के छोटे छोटे अभियान में विभक्त कर इस अभियान को गति प्रदान की है, 



जिसके अंतर्गत जल शक्ति अभियान व गंगा सप्ताह अभियान में स्कूली बच्चों से भी बृक्षारोपण  कराया गया है, 






जिलाधिकारी कासगंज के निर्देशन में अगले माह 15 अगस्त तक 15 लाख से अधिक बृक्षों को रोपित करने का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जायेगा व 15 अगस्त के दिन 10 लाख से अधिक बृक्ष एक ही दिन में रोपित किये जायेंगे,



इस महा-अभियान के महालक्ष्य को प्राप्त करने हेतु विभिन्न विभागों को उनके उनके लक्ष्य बांट दिए गए हैं- जिसके अनुसार कासगंज वन विभाग को 389425 बृक्ष, ग्राम्य विकास विभाग को 754100 बृक्ष, राजस्व विभाग को 71910 बृक्ष, पंचायती राज विभाग को 71910 बृक्ष, आवास विकास परिषद् को 5680 बृक्ष, नगर विकास को 17461 बृक्ष, लोक निर्माण विभाग को 24714 बृक्ष, सिंचाई विभाग को 28600 बृक्ष, कृषि विभाग को 23054 बृक्ष, पशु पालन विभाग को 7900 बृक्ष, सहकारिता विभाग को  2900 बृक्ष, उद्योग विभाग को 13043 बृक्ष, विद्युत् विभाग को 6320 बृक्ष, शिक्षा विभाग को 74678 बृक्ष, श्रम विभाग को 1789 बृक्ष, स्वास्थ्य विभाग को 11983 बृक्ष, परिवहन विभाग को 1680 बृक्ष, रेलवे विभाग को 7763 बृक्ष, उद्यान विभाग को 71904 बृक्ष व पुलिस विभाग को 5680 बृक्ष रोपित करने का लक्ष्य प्रदान किया गया है,



इस महा-अभियान को ऊर्जा व प्रेरणा प्रदान करने बाले जिलाधिकारी चन्द्र प्रकाश सिंह प्रत्येक सामाजिक संगठन एवं विभागीय अधिकारीयों व कर्मचारियों के साथ रहकर बृक्षारोपण कार्य/लक्ष्य को गति प्रदान करने में लगातार जुटे हुए हैं, 

Comments

webmedia.page

साइकिल से ही यूरोप अफ्रीका व अरब देशों को पार कर सोरों जी पहुंचे रूसी यात्री मिखायू,

गंगा एक्सप्रेसवे बनने से कासगंज की तराई हो सकती है आर्थिक गलियारे के रूप में विकसित।

कासगंज: वेस्ट सेल्फी इन द वर्ल्ड - छोटे शहर से इंटरनेशनल स्टार्टअप।

सोरों जी के संदर्भ में उद्योगपति रामगोपाल दुबे ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, अब अगली मुलाकात में भी सोरों जी के सर्वांगीण विकास को लेकर होनी है विस्तृत चर्चा।

हज़ारों चीखें न निकलें उससे पहले इसकी कराह सुन ली जाए तो बेहतर है,

कासगंज के आरके मिश्रा ने डिजाइन किया था तेजस का कॉकपिट- दशकों बाद अब वायुसेना में शामिल हुआ भारत का यह पहला लड़ाकू विमान,

कासगंज : ग्यारवीं के छात्रों द्वारा बनाई साइकिल दे रही है 50 का माइलेज।