कासगंज: सात माह बाद पुलिस का खुलासा- पुत्र ने ही किया पिता का क़त्ल,



कासगंज: सात माह बाद पुलिस का खुलासा- पुत्र ने ही किया पिता का क़त्ल,
(अमित तिवारी) : कासगंज/अमांपुर पुलिस ने सात माह बाद शनिवार दिनांक 27 अप्रेल को एक ब्लाइन्ड मर्डर केस का खुलासा किया है जिसमें मृतक के पुत्र ने एक साथी के साथ मिलकर अपने ही पिता का क़त्ल कर दिया,
सात माह पूर्व पिछले वर्ष दिनांक 18 सितम्बर  को वादी राहुल पुत्र जुगेन्द्र सिंह निवासी ग्राम परतापुर थाना अमांपुर जनपद कासगंज द्वारा उपस्थित थाना आकर लिखित तहरीर दी गई कि दिनांक 17 सितम्बर  की रात्रि को अज्ञात बदमाशों द्वारा वादी के पिता की गोली मारकर हत्या कर दी गई है तथा गांव के दूसरे छोर पर सत्तन पुत्र बृजपाल को भी अज्ञात बदमाशों द्वारा गोली मारी गई है, वादी द्वारा प्राप्त तहरीर के आधार पर थाना अमांपुर पर मुकदमा अपराध संख्या  278  वर्ष 2018  धारा 302, 307, भादवि बनाम अज्ञात अभियुक्तगण के पंजीकृत कर विवेचना प्रारम्भ की गई, उक्त हत्या की दुस्साहसिक घटना को पुलिस अधीक्षक कासगंज अशोक कुमार शुक्ल द्वारा गंभीरता से लेते हुए घटना के शीघ्र अनावरण एवं घटना में संलिप्त अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु क्षेत्राधिकारी सहावर एवं प्रभारी निरीक्षक अमापुर के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन किया गया, गठित पुलिस टीम द्वारा घटना के अनावरण के हर संभव प्रयास प्रारम्भ किये गये, इन्हीं सार्थक प्रयासों के क़म में पतारसी एव सुरागरसी के दौरान मृतक के पुत्र राहुल पुत्र स्वर्गीय  जुगेन्द्र एवं अनिल पुत्र मकसूदन निवासी परतापुर थाना अमांपुर जनपद कासगंज का नाम प्रकाश में आया, घटना में संलिप्त दोनों अभियुक्तगण को थाना अमांपुर पुलिस टीम द्वारा राहुल के घर ग्राम परतापुर से गिरफ्तार कर लिया गया है, राहुल की निशानदेही पर घटना में प्रयुक्त आलाकत्ल तमन्चा 12 बोर मय खोखा कारतूस के बरामद किया गया है, गिरफ्तारशुदा अभियुक्तगण से पूछताछ करने पर बताया गया कि सात माह पूर्व दिनांक 17 सितम्बर  की रात्रि को राहुल पुत्र जुगेन्द्र सिंह द्वारा अनिल के कहने पर अपने पिता जुगेन्द्र सिंह की गोली मारकर हत्या की थी व गांव के ही सत्तन पुत्र बृजपाल सिंह को भी जान से मारने की नीयत से 2  गोलियां मारी थी।
अमांपुर पुलिस ने सात माह बाद इस ब्लाइन्ड मर्डर केस का खुलासा करते हुए गिरफ्तार अभियुक्तगण राहुल पुत्र स्वर्गीय  जुगेन्द्र सिंह निवासी ग्राम परतापुर थाना अमांपुर जनपद कासगंज व  अनिल पुत्र मकसूदन निवासी  ग्राम परतापुर थाना अमांपुर जनपद कासगंज को जेल भेज दिया गया है, उक्त अभियुक्तगणों व उनके हवाले से घटना में प्रयुक्त आलाकत्ल तमन्चा 12  बोर मय खोखा कारतूस को बरामद करने में पुलिस टीम प्रभारी निरीक्षक अमांपुर राजेश कुमार मीना, उपनिरीक्षक अशोक कुमार, उपनिरीक्षक ओमबाबू, आरक्षी वेदप्रकाश, आरक्षी शिवराम व  महिला आरक्षी कुमारी  रिंकी चौहान ने सफलता हासिल की,

Comments

webmedia.page

साइकिल से ही यूरोप अफ्रीका व अरब देशों को पार कर सोरों जी पहुंचे रूसी यात्री मिखायू,

गंगा एक्सप्रेसवे बनने से कासगंज की तराई हो सकती है आर्थिक गलियारे के रूप में विकसित।

कासगंज: वेस्ट सेल्फी इन द वर्ल्ड - छोटे शहर से इंटरनेशनल स्टार्टअप।

सोरों जी के संदर्भ में उद्योगपति रामगोपाल दुबे ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, अब अगली मुलाकात में भी सोरों जी के सर्वांगीण विकास को लेकर होनी है विस्तृत चर्चा।

हज़ारों चीखें न निकलें उससे पहले इसकी कराह सुन ली जाए तो बेहतर है,

कासगंज के आरके मिश्रा ने डिजाइन किया था तेजस का कॉकपिट- दशकों बाद अब वायुसेना में शामिल हुआ भारत का यह पहला लड़ाकू विमान,

कासगंज : ग्यारवीं के छात्रों द्वारा बनाई साइकिल दे रही है 50 का माइलेज।