(अमित तिवारी) : तीसरे चरण के मतदान को पोलिंग पार्टियां रवाना, 14 प्रत्याशियों की किस्मत कल ईवीएम में हो जाएगी कैद,



(अमित तिवारी) : तीसरे चरण के मतदान को पोलिंग पार्टियां रवाना,
14 प्रत्याशियों की किस्मत कल ईवीएम में हो जाएगी कैद,


एटा कासगंज 22 लोकसभा क्षेत्र के तीसरे चरण का मतदान सम्पन्न कराने हेतु सोमवार को कासगंज मंडी परिसर से पोलिंग पार्टियां रवाना हुयीं,
एटा कासगंज से तीसरे चरण के इस चुनाव के लिए 14 प्रत्याशियों की किस्मत काल ईवीएम में कैद हो जाएगी,



जिलाधिकारी कासगंज सीपी सिंह ने पोलिंग पार्टियों से कहा कि वो निर्भीक होकर निष्पक्षता से मतदान कराएं, किसी से दोस्ती, भाईचारा नहीं निभाना है, अपना मोबाइल साइलेंट रखें, समस्त मतदान केन्द्रों की वीडियो कैमरों से निगरानी की जायेगी, अपना काम पूर्ण निष्पक्ष होकर ईमानदारी और सतर्कता से करना सुनिश्चित करें, कोई  दिक्कत होने पर कंन्ट्रोल रूम नं0 1950 या 9528972258 पर अपनी समस्या बता सकते हैं, शीघ्र सहायता प्रदान की जायेगी, दिव्यांग और वृद्ध मतदाताओं को वोट डालने में कोई दिक्कत न हो, ध्यान रखें उन्हें लाइन में न लगना पड़े,  प्राथमिकता से उनका वोट डलवायें, वीवीपैड से कतई छेड़छाड़ न करें। 
वहीं जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि समस्त निर्वाचन टीम भावना से कार्य करें,  शाम को सेक्टर मजिस्ट्रेट बूथों पर पोलिंग पार्टियां चैक कर रिपोर्ट देंगे,  किसी का खानपान, आतिथ्य स्वीकार न करें, मशीन खराब होने पर तुरंत बदलवा दी जायेगी, मन, वचन, कर्म से पवित्र रहें, प्रपत्रों और नियमों का जरूर गहन अध्ययन कर लें, माॅकपोल कराकर कम से कम 50 वोट अर्थात प्रत्येक प्रत्याशी को कम से कम तीन वोट अवश्य डलवायें, मतदान केन्द्रों और क्षेत्र में पर्याप्त फोर्स की व्यवस्था रहेगी, हर 15 मिनट पर कोई न कोई गाड़ी पहुंचती रहेगी।

अपर जिला मजिस्ट्रेट/ उप जिला निर्वाचन अधिकारी योगेन्द्र कुमार ने  जानकारी देते हुये बताया कि मतदान स्थल पर फोटोयुक्त मतदाता पर्ची को पहचान दस्तावेज के रूप में स्वीकार नहीं किया जायेगा, पहचान के लिये मतदाता को पर्ची के साथ ही मतदाता फोटो पहचान पत्र-ईपिक या आयोग द्वारा निर्धारित अन्य 11 विकल्पों में से कोई एक फोटोयुक्त दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा। जैसे पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, राज्य/केन्द्र सरकार के लोक उपक्रम, पब्लिक लिमिटेड कम्पनियों द्वारा अपने कर्मचारियों को जारी किये गये फोटोयुक्त सेवा पहचान पत्र,  बैंकों/डाकघरों द्वारा जारी की गई फोटोयुक्त पासबुक। पैनकार्ड, एनपीआर के अंतर्गत आरजीआई द्वारा जारी किये गये स्मार्ट कार्ड। मनरेगा जाबकार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अंतर्गत जारी स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, फोटोयुक्त पेंशन दस्तावेज। सांसदों, विधायकों/ विधान परिषद सदस्यों को जारी किये गये सरकारी पहचान पत्र, आधार कार्ड आदि विकल्पों में से कोई भी एक पहचान दस्तावेज वोट डालने के लिये मतदाता को साथ में लाना अनिवार्य है,



जनपद के तमाम मतदान केंद्रों को उत्सव प्रांगड़ की भांति सुसज्जित किया गया है, रंगोली, गुब्बारे, फूल, माला, झालर, कालीन,  पंडाल लगाकर मतदान स्थलों को भव्यता प्रदान की गई है,

एटा कासगंज 22 लोकसभा क्षेत्र में कुल 1617534  मतदाता निर्वाचन सूची में शामिल हैं, जिनमें से जनपद कासगंज के 805 पोलिंग सेंटर व 1206 बूथों पर 990127 मतदाता आज 23 अप्रेल को मतदान करेंगे, वहीँ  अगले माह 23 मई को इस लोकसभा चुनाव नतीजे आयेंगे।

विधानसभा बार जानकारी अनुसार कासगंज बिधानसभा क्षेत्र के 254 पोलिंग सेंटर व 416 बूथों पर कुल 352990 मतदाता मतदान करेंगें जिनमें 190811 पुरुष 162173 महिला व 6 अन्य मतदाता सूची में शामिल हैं,


अमापुर बिधानसभा क्षेत्र के 271 पोलिंग सेंटर व 365 बूथों पर कुल 299239 मतदाता मतदान करेंगें जिनमें 162247 पुरुष 136978 महिला व 14 अन्य मतदाता सूची में शामिल हैं,


वहीँ पटियाली बिधानसभा क्षेत्र के 280 पोलिंग सेंटर व 425 बूथों पर कुल 337898 मतदाता मतदान करेंगें जिनमें 183563 पुरुष 154324 महिला व 11 अन्य मतदाता सूची में शामिल हैं,

कुल मिलकर जनपद कासगंज के 805 पोलिंग सेंटर व 1206 बूथों पर 990127 मतदाता जिनमें 536621 पुरुष 453475 महिला व 31 अन्य मतदाता मतदान करेंगे,

मतदान को सकुशल सम्पन्न कराने हेतु जनपद के सभी चेकपोस्ट एलर्ट मोड में रखे गए हैं,

Comments

webmedia.page

साइकिल से ही यूरोप अफ्रीका व अरब देशों को पार कर सोरों जी पहुंचे रूसी यात्री मिखायू,

गंगा एक्सप्रेसवे बनने से कासगंज की तराई हो सकती है आर्थिक गलियारे के रूप में विकसित।

कासगंज: वेस्ट सेल्फी इन द वर्ल्ड - छोटे शहर से इंटरनेशनल स्टार्टअप।

सोरों जी के संदर्भ में उद्योगपति रामगोपाल दुबे ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, अब अगली मुलाकात में भी सोरों जी के सर्वांगीण विकास को लेकर होनी है विस्तृत चर्चा।

हज़ारों चीखें न निकलें उससे पहले इसकी कराह सुन ली जाए तो बेहतर है,

कासगंज के आरके मिश्रा ने डिजाइन किया था तेजस का कॉकपिट- दशकों बाद अब वायुसेना में शामिल हुआ भारत का यह पहला लड़ाकू विमान,

कासगंज : ग्यारवीं के छात्रों द्वारा बनाई साइकिल दे रही है 50 का माइलेज।