पाकिस्तान में हिंदुस्तान की एयर स्ट्राइक, जश्न में डूबा कासगंज।



पाकिस्तान में हिंदुस्तान की एयर स्ट्राइक, जश्न में डूबा कासगंज।


(अमित तिवारी) कासगंज। पाकिस्तान में हिंदुस्तान की एयर स्ट्राइक और इस स्ट्राइक में 300 आतंकियों के मटियामेट होने की खबर मिलते ही कासगंज के लोग जश्न में डूब हुए हैं, कोई लड्डू बांट रहा है तो कोई पटाखे चला रहा है, हर गांव आर कस्बे में लोग अपने अपने तरीके से जश्न मना रहे हैं, लोगों का कहना है कि पुलवामा हमले के बाद से वो काफी गमजदा थे लेकिन आज जो भारतीय वायुसेना ने मिशाल कायम की है वो काबिले तारीफ है और वो उन सैकड़ों आतंकियों की मौत की खबर पाकर बेहद खुश हैं जो पुलवामा हमले में अप्रत्यक्ष रूप से शामिल थे।


सिढ़पुरा, पटियाली, गंजडुंडवारा, अमांपुर, सहावर, ढोलना, सोरों जी के साथ साथ कासगंज के गांधी मूर्ति इलाके में दर्जनों युवाओं ने एकत्रित होकर पाकिस्तान मुर्दाबाद और हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते हुए खुशी से पटाखे चलाए।


कासगंज जनपद के शिवसेना कार्यकर्ताओं ने भी गांधी मूर्ति पर एकत्रित होकर पाकिस्तान को जमकर कोसा, और भारत माता की जय हो के नारे लगाते हुए पटाखे चलाये,

इस मौके पर शिवसेना की ओर से जिलाध्यक्ष अशोक गौड़, नगर प्रमुख विनोद गुप्ता, व्यापार सेना प्रमुख लकी वार्ष्णेय, नेत्रपाल मंत्री जी, गोल्डी गुप्ता, रजनीश वार्ष्णेय, इंद्रमोहन गुप्ता, वाशु, जीतू, अमित पाठक, शिवम कौशिक, अश्वनी चतुर्वेदी, उदित चौहान,  विष्णु, अतुल कुमार, अंकित गौड़, सुभाष, शोभित, रानू, विट्टू पंडित व अर्जुन मौजूद रहे, और भारतीय सनातन एकता समिति के अध्यक्ष आर्यन ठाकुर के साथ नगर अध्यक्ष अभिषेक, पीयूष पाठक, कुनाल सिन्हा, अमन गुप्ता, साहिल पराशर, हर्षित उपाध्याय, केपी पंडित, अंशुल यादव, आदित्य ठाकुर, उदित चौहान, आकाश कुशवाह, पंकज कुमार, सुमित वाल्मीक, निकुंज, प्रथम गुप्ता, भइयन ठाकुर, रोहित सागर, मोहित, आदि युवा मौजूद रहे।


वहीं सिढ़पुरा में राजू दुवे सहित सैकड़ों युवाओं ने पटाखे चलकर लड्डु बांटे।

Comments

webmedia.page

साइकिल से ही यूरोप अफ्रीका व अरब देशों को पार कर सोरों जी पहुंचे रूसी यात्री मिखायू,

गंगा एक्सप्रेसवे बनने से कासगंज की तराई हो सकती है आर्थिक गलियारे के रूप में विकसित।

कासगंज: वेस्ट सेल्फी इन द वर्ल्ड - छोटे शहर से इंटरनेशनल स्टार्टअप।

सोरों जी के संदर्भ में उद्योगपति रामगोपाल दुबे ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, अब अगली मुलाकात में भी सोरों जी के सर्वांगीण विकास को लेकर होनी है विस्तृत चर्चा।

हज़ारों चीखें न निकलें उससे पहले इसकी कराह सुन ली जाए तो बेहतर है,

कासगंज के आरके मिश्रा ने डिजाइन किया था तेजस का कॉकपिट- दशकों बाद अब वायुसेना में शामिल हुआ भारत का यह पहला लड़ाकू विमान,

कासगंज : ग्यारवीं के छात्रों द्वारा बनाई साइकिल दे रही है 50 का माइलेज।