जनपद कासगंज में स्मार्ट खेती की कवायद शुरू- राजस्व निरीक्षक और लेखपालों को वितरित होंगे 300 से अधिक स्मार्टफोन।





जनपद कासगंज में स्मार्ट खेती की कवायद शुरू- राजस्व निरीक्षक और लेखपालों को वितरित होंगे 300 से अधिक स्मार्टफोन

(अमित तिवारी) कासगंज। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा फसल कटाई के प्रयोगों को पारदर्शी एवं सुगम बनाने के लिए प्रधानमंत्री किसान फसल बीमा योजना के अंतर्गत राजस्व निरीक्षक और लेखपालों को स्मार्ट फोन प्रदान कर स्मार्ट खेती की कवायद शरू हो चुकी है, मुख्यमंत्री ने राजस्व निरीक्षक और लेखपालों को स्मार्टफोन वितरण करवाने आरम्भ कर दिए हैं, जनपद कासगंज में तक़रीबन 300 से अधिक की संख्या में  स्मार्टफोन का वितरण किया जायेगा, इस तकनीकी के उपयोग से खेती कार्यों पर सरकारी निगरानी कार्यों को प्रभावी ढंग से संपन्न कराया जा सकेगा, मुख्यमंत्री क्रॉप कटिंग से जुड़े प्रकरणों को समयबद्ध ढंग से करने में इन स्मार्ट फोन और उनमे उपयोग होने वाले एप्प से मदद मिलेगी, इस स्मार्टफोन में मोबाइल डिवाइस मैनेजमेंट के द्वारा राजस्व विभाग व् अन्य सरकारी योजनाओं पर निगरानी व् नियंत्रण हेतु खसरा खतौनी पड़ताल पशु मेला क्रॉप कटिंग आदि सम्बंधित एप्लीकेशन डिजाइन कर इंस्टाल कीं गयीं हैं, अब आगामी कृषि योजनाएं इन्हीं आंकड़ों पर तैयार कीं जायेंगीं। जिन फसलों का उत्पादन कम हो रहा है, आंकड़ों के आधार पर उन्हें ज्यादा उगाने के लिए व योजनाएं शुरू करने पर जोर दिया जायेगा। पिछले कई वर्षो से शुरू की गई फसल बीमा योजना के क्रियान्वयन के लिए क्राप कटिंग और भी महत्वपूर्ण है। सिर्फ इसलिए कि बीमाधारक किसान को नुकसान का मुआवजा उस क्षेत्र में क्राप कटिंग से उत्पादन के आंकड़ों के आधार पर ही दिया जाता है। राजस्व निरीक्षकों व लेखपालों को आधुनिक व सम्बंधित एप्लीकेशन से लैस स्मार्ट फोन मिलने के बाद खेती किसानी व तमाम आंकड़े अब सटीक रूप में सरकार के पास पहुंचेंगे, इसके अलावा खेती और किसान को और बेहतर बनाने की आधुनिक टिप्स भी इन स्मार्टफोन के जरिये समय समय पर अपडेट होतीं रहेंगीं।

Comments

webmedia.page

साइकिल से ही यूरोप अफ्रीका व अरब देशों को पार कर सोरों जी पहुंचे रूसी यात्री मिखायू,

गंगा एक्सप्रेसवे बनने से कासगंज की तराई हो सकती है आर्थिक गलियारे के रूप में विकसित।

कासगंज: वेस्ट सेल्फी इन द वर्ल्ड - छोटे शहर से इंटरनेशनल स्टार्टअप।

सोरों जी के संदर्भ में उद्योगपति रामगोपाल दुबे ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, अब अगली मुलाकात में भी सोरों जी के सर्वांगीण विकास को लेकर होनी है विस्तृत चर्चा।

हज़ारों चीखें न निकलें उससे पहले इसकी कराह सुन ली जाए तो बेहतर है,

कासगंज के आरके मिश्रा ने डिजाइन किया था तेजस का कॉकपिट- दशकों बाद अब वायुसेना में शामिल हुआ भारत का यह पहला लड़ाकू विमान,

कासगंज : ग्यारवीं के छात्रों द्वारा बनाई साइकिल दे रही है 50 का माइलेज।