आखिर क्या है राम जन्मभूमि विवाद, क्या कहती है एएसआई की रिपोर्ट।

आखिर क्या है राम जन्मभूमि विवाद, क्या कहती है एएसआई की रिपोर्ट।


अमित तिवारी। ऐतिहासिक वर्णन के अनुसार वर्ष 1527 में बाबर के सेनापति मीरबाकी ने अयोध्या की रामकोट पहाड़ी अर्थात राम किला पर राम मंदिर तोड़कर मस्जिद का निर्माण कराया,
वर्ष 1940 से पूर्व इस मस्जिद को "मस्जिद ऐ जन्म स्थान" कहा जाता था, 1992 में 1.5 लाख कारसेवकों ने इस ढांचे को गिरा दिया, इस आंदोलन में 2 हज़ार से अधिक लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी,
वर्ष 1970, 1992 और 2003 में भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) द्वारा विवादित स्थल के आसपास की गयी खुदाई से उस स्थल पर मठ होने के संकेत मिले।

2003 में अदालत द्वारा दिए गए आदेश पर भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को इसका और अधिक गहन अध्ययन करने तथा मलबे के नीचे विशेष तरह की संचरना की खुदाई करने को कहा गया।
एएसआई का रिपोर्ट सारांश में कहा गया कि मस्जिद के नीचे मंदिर के सबूत होने के निश्चित संकेत देता है। एएसआई शोधकर्ताओं के शब्दों में उनलोगों ने "उत्तर भारत के मंदिरों से जुड़ी... विशिष्टताओं की" खोज की।

खुदाई का नतीजा:

“stone and decorated bricks as well as mutilated sculpture of a divine couple and carved architectural features, including foliage patterns, amalaka, kapotapali, doorjamb with semi-circular shrine pilaster, broke octagonal shaft of black schist pillar, lotus motif, circular shrine having pranjala (watershute) in the north and 50 pillar bases in association with a huge structure"


Comments

webmedia.page

साइकिल से ही यूरोप अफ्रीका व अरब देशों को पार कर सोरों जी पहुंचे रूसी यात्री मिखायू,

गंगा एक्सप्रेसवे बनने से कासगंज की तराई हो सकती है आर्थिक गलियारे के रूप में विकसित।

कासगंज: वेस्ट सेल्फी इन द वर्ल्ड - छोटे शहर से इंटरनेशनल स्टार्टअप।

सोरों जी के संदर्भ में उद्योगपति रामगोपाल दुबे ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, अब अगली मुलाकात में भी सोरों जी के सर्वांगीण विकास को लेकर होनी है विस्तृत चर्चा।

हज़ारों चीखें न निकलें उससे पहले इसकी कराह सुन ली जाए तो बेहतर है,

कासगंज के आरके मिश्रा ने डिजाइन किया था तेजस का कॉकपिट- दशकों बाद अब वायुसेना में शामिल हुआ भारत का यह पहला लड़ाकू विमान,

कासगंज : ग्यारवीं के छात्रों द्वारा बनाई साइकिल दे रही है 50 का माइलेज।